Recent Comments

    test
    test
    OFFLINE LIVE

    Social menu is not set. You need to create menu and assign it to Social Menu on Menu Settings.

    July 18, 2024

    Indian Railways: वंदे भारत एक्‍सप्रेस ट्रेन के पुराने कोच की जगह बनेंगे 8 हजार नए कोच, करोड़ों रुपये का आएगा खर्च।

    1 min read

    Vande Bharat Express train: भारतीय रेलवे ने वंदे भारत एक्‍सप्रेस ट्रेन के नए कोच को तैयार करने की योजना बनाई है, जिसके तहत 8 हजार नए कोच तैयार किए जाएंगे |
    भारतीय रेलवे ने वंदे भारत एक्‍सप्रेस को लेकर नया एलान किया है , आधुनिकीकरण और विस्‍तार की दिशा में एक महत्‍वपूर्ण कदम उठाते हुए अगले कुछ सालों में कुल 8000 वंदे भारत एक्‍सप्रेस कोच बनाने की येाजना की घोषणा की गई है , ये 8000 कोचों को पुराने कोचों की जगह से बदला जाएगा , रिपोर्ट में कहा गया है कि योजना इन सेमी हाई स्‍पीड ट्रेनसेटों को और बेहतर बनाना है |
    वंदे भारत ट्रेन आरामदायक सफर और अच्‍छी सुविधाओं के साथ सफर के लिए फेमस है , वंदे भारत एक्‍सप्रेस ट्रेन में 16 कोच होते हैं, लेकिन इसे आवश्‍यकता के अनुसार 8 कोचों के साथ चलाया जा सकता है , अभी ये देश के ज्‍यादातर राज्‍यों में संचालित है और कुछ सालों में इसे देश के बाकी रूटों से जोड़ने की योजना बनाई गई है , रेल मंत्रालय के मुताबिक, आगामी उत्‍पादन में लगभग दो-तिहाई कोच तैयार किए जाएंगे |

    वंदे भारत के नए कोच की लागत
    16 कोच वाले ट्रेनसेट की लागत लगभग 130 करोड़ रुपये तक होने का अनुमान है , चेन्नई में इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (आईसीएफ) को स्लीपर वेरिएंट के 3,200 वंदे भारत कोचों बनाने के लिए काम सौंपा गया है , गौरतलब है कि अभी तक सिर्फ बैठने वाले ही कोच वंदे भारत एक्‍सप्रेस ट्रेन के लिए तैयार किए गए हैं , नियोजित विस्‍तार के साथ ICF में 1,600 कोचों का उत्पादन किया जाएगा, जबकि बाकी MCF-रायबरेली और RCF-कपूरथला के द्वारा तैयार किया जाएगा |

    इस साल इतने वंदे भारत होंगे तैयार
    वंदे भारत रेक की संख्‍या भी इस वित्त वर्ष 25 की तुलना में 75 तक पहुंचने की उम्मीद है , रेल मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार, इस साल करीब 700 वंदे भारत कोचों का उत्‍पादन करने का अनुमान है , वहीं 2024-25 में एक हजार एक्‍स्‍ट्रा कोच तैयार किए जाएंगे |

    वंदे भारत स्लीपर कोच
    रेल मंत्री अश्विनी वैष्‍णव ने कहा कि वंदे भारत स्‍लीपर वेरिएंट की पहली ट्रेन अगले साल के शुरुआत में किया जाएगा , यह ट्रेन लंबी दूरी के ट्रेनों के समान ही चलाया जाएगा , यह राजधानी की तरह ही पहले 500 किमी की दूरी तक चलाया जाएगा , कोचों का डिजाइन नए तरीके से होगा, जो दो तरह के हो सकते हैं |

    बता दे कि कुछ कंपनियों को वंदे भारत कोच के उत्‍पादन के लिए टेंडर दिया गया है | रूसी रोलिंग-स्टॉक प्रमुख टीएमएच, भारत के रेल विकास निगम लिमिटेड के साथ साझेदारी में, स्लीपर वेरिएंट समेत 120 वंदे भारत का निर्माण करेगी , इसके अलावा, बीएचईएल को इसी प्रकार के 80 कोच बनाने का ठेका दिया गया है , इसके अलावा, फ्रांसीसी प्रमुख एल्सटॉम एल्यूमीनियम बॉडी से लैस 100 वंदे भारत ट्रेनों के निर्माण में शामिल होगी |

    About The Author

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *