Recent Comments

    test
    test
    OFFLINE LIVE

    Social menu is not set. You need to create menu and assign it to Social Menu on Menu Settings.

    June 14, 2024

    Stocks Upgradation: सुजलॉन समेत इन 14 छोटे शेयरों के बढ़ने वाले हैं भाव, नए साल में फायदा देगी पिछले 6 महीने की रैली।

    1 min read

    AMFI Rejig: स्मॉल कैप कैटेगरी के इन शेयरों में साल 2023 के दौरान अच्छी रैली देखने को मिली है, जिससे इनके एमकैप में अच्छी-खासी बढ़ोतरी हुई है , साल 2023 कई शेयरों के लिए शानदार साबित हुआ है , साल के दौरान स्मॉल कैप कैटेगरी में यानी कई छोटे शेयरों में अच्छी-खासी रैली देखने को मिली है , इसका फायदा उन्हें नए साल में मिलने जा रहा है , शेयरों के भाव में आई तेजी से उन शेयरों के मार्केट कैप में भी बढ़ोतरी आई है, जिसका फायदा शेयरों के अपग्रेडेशन के रूप में होने वाला है।

    साल में दो बार होता है कैटगेराइजेशन
    म्यूचुअल फंडों का संगठन एएमएफआई यानी एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया साल में दो बार शेयरों का कैटेगराइजेशन करता है , एएमएफआई के द्वारा तय कैटेगरी के आधार पर तमाम म्यूचुअल फंड अपना एक्सपोजर तय करते हैं और उसी हिसाब से शेयरों को म्यूचुअल फंड के रूट से निवेश प्राप्त होता है , इस लिहाज से देखें तो एएमएफआई के द्वारा शेयरों की कैटगरी का हर निर्धारण काफी अहम हो जाता है।

    जनवरी के पहले सप्ताह में बदलाव
    एएमएफआई के द्वारा अब शेयरों की कैटगरी का अगला निर्धारण नए साल में जनवरी 2024 के पहले सप्ताह में होने वाला है , ईटी की एक रिपोर्ट के अनुसार, एएमएफआई अगली आर जब शेयरों की कैटेगरी तय करने बैठेगा , कुछ शेयरों को फायदा होने वाला है और उनकी वैल्यू बढ़ जाने वाली है , उन शेयरों में स्मॉल कैप कैटेगरी से सुजलॉन एनर्जी, कल्याण ज्वेलर्स, केईआई इंडस्ट्रीज और हाल ही में शेयर बाजार में लिस्ट हुए जेएसडब्ल्यू इंफ्रा जैसे नाम शामिल हैं , इन शेयरों को स्मॉल कैप से मिड कैप में अपग्रेड किया जा सकता है , पिछले 6 महीने में सुजलॉन के शेयरों के भाव 300 फीसदी से ज्यादा मजबूत हुए हैं।

    ये शेयर होने वाले हैं अपग्रेड
    ईटी की रिपोर्ट नुवामा के एक कैलकुलेशन के आधार पर तैयार की गई है , नुवामा का कैलकुलेशन बताता है कि स्मॉल कैप कैटेगरी के कुल 14 शेयरों को अपग्रेडेशन का फायदा मिल सकता है और वे मिड कैप में शामिल हो सकते हैं , अन्य शेयरों में मझगांव डॉक, लॉयड्स मेटल, एसजेवीएन, क्रेडिट एक्सेस ग्रामीण, ईमामी, एक्साइड इंडस्ट्रीज, अजंता फार्मा, ग्लेनमार्क फार्मा, निप्पॉन लाइफ और फाइवस्टार बिजनेस शामिल हैं. इसी तरह मिड कैप के आईआरएफसी, पावर फिन कॉर्प, पॉलीकैब मैक्रोटेक, श्रीराम फाइनेंस, यूनियन बैंक, इंडियन ओवरसीज बैंक, आरईसी लिमिटेड और जियो फाइनेंशियल को लार्ज कैप में जगह मिल सकती है।

    इन शेयरों का हो सकता है डाउनग्रेड
    वहीं दूसरी ओर कुछ शेयरों को नुकसान भी हो सकता है , राजेश एक्सपोर्ट्स, आरती इंडस्ट्रीज, फाइजर, विनती ऑर्गेनिक्स, क्रॉम्पटन ग्रीव्स, भारत डायनेमिक्स, अतुल, नवीन फ्लोरीन, व्हर्लपूल, लॉरस लैब्स, सुमितोमो केमिकल्स, आदित्य बिड़ला फैशन, बाटा इंडिया और कजरिया सिरेमिक्स मिड कैप से स्मॉल कैप में जा सकते हैं , इसी तरह यूपीएल, अदानी विल्मर, आईआरसीटीसी, पीआई इंडस्ट्रीज, बॉश, ट्यूब इन्वेस्टमेंट्स, हीरो मोटोकॉर्प और संवर्धन मदरसन को लार्ज कैप से मिड कैप में जाना पड़ सकता है।

    About The Author

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *